ब्रांड मोदी: सेलेब्रिटीज के साथ सोशल मीडिया पर संपर्क

अप्रैल 18, 2019
Contact: Mandira Banerjee mandirab@umich.edu

Icon of a computer and social media icons

एन आर्बर- नये मिशिगन यूनिवर्सिटी के अध्ययन के अनुसार 2014 के आम चुनावों से पहले भारतीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर अपनी मौजूदगी बढ़ाने और चुनावी महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने के लिए सोशल मीडिया पर मशहूर हस्तियों को प्रभावी रूप से शामिल किया।

Joyojeet Pal

यू-एम स्कूल ऑफ इंफॉर्मेशन में एसोसिएट प्रोफेसर जॉयजीत पाल ने फरवरी 2009 से अक्टूबर 2015 के बीच @narendramodi के 9,000 से अधिक ट्वीट्स का विश्लेषण किया, जिसमें भारतीय हस्तियों के साथ-साथ चुनावो से पहले अौर चुनावो के बाद की एन्गेज्मन्ट शामिल था।

“मोदी एक अनोखी स्थिति के समय आये जब राजनीतिक नेतृत्व में उनकी बढ़ोत्तरी भारत में सोशल मीडिया के बढ़ते उपयोग के साथ हुई,” पाल ने कहा।

पाल के अनुसार, एन्गेज्मन्ट के तीन अलग-अलग चरण थे जो छह वर्षों में हुए।

  1. वैधता: इस पहले चरण में, पाल कहते हैं, मोदी के एक क्षेत्रीय राजनीतिज्ञ की छवि को हटाकर राष्ट्रीय स्तर के नेता के तौर पर स्थापित किया। इस चरण के दौरान, वह अभिनेता अमिताभ बच्चन, व्यवसायी नारायण मूर्ति, क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और आध्यात्मिक नेता श्री श्री रविशंकर जैसी हस्तियों को टैग किया। उनके साथ संलग्न करके, उन्होंने यह धारणा प्रस्तुत की कि उनके मुख्य समर्थकों के अलावा बाकि लोग भी उनके साथ जुड़ने के लिए तैयार थे।
  2. समर्थन: 2013 के आसपास, अपने अभियान के लिए समर्थन जुटाने के लिये वे अपने ट्वीट्स में विभिन्न हस्तियों को रेफेर करने लगे। मुख्य रूप से तस्वीरों के माध्यम से संबद्धता दिखाया गया।
  3. पुष्टि: तीसरे चरण में चुनाव के बाद भी हस्तियों को पोस्ट में टैग किया गया। पाल के अनुसार, यह वह चरण था जब उन्होंने अपनी पहल को देश पर थोपी गई बातों के बजाय राष्ट्रीय अपील के साथ अभियान के रूप में प्रस्तुत किया। यह विशेष रूप से “स्वच्छ भारत,” भारत की सड़कों और बुनियादी ढांचे को साफ करने के लिए एक राष्ट्रीय आंदोलन के साथ देखा जाता है, और इसके बाद, विमुद्रीकरण के साथ। इन समय सेलिब्रिटी जुड़ाव एक सहयोगी, विचारशील नेता के विचारों के साथ था।

“उन्होंने जिन तरीकों से संलग्न किया उनमें से एक मशहूर हस्तियों को टैग करना था,” पाल ने कहा।” “उदाहरण के लिए, वह @deepikapadukone को को टैग करके कहा कि वो युवाअों को वोट देने के लिए प्रोत्साहित करे।”

पाल का कहना है कि सोशल मीडिया यूजर्स को शायद नहीं पता होगा कि मोदी अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को जानते हैं या नही, लेकिन उनके ट्वीट से लगता है कि वे जानते हैं। इससे यह भी लगता है कि वह नागरिकों को मतदान के लिए प्रोत्साहित करने में रुचि रखते थे। भले ही यह सेलिब्रिटी किसी राजनेता के पक्ष में या उसके खिलाफ स्थिति लेने के लिए अनिच्छुक हो, लेकिन मोदी के साथ उनका आदान-प्रदान एक सकारात्मक संबंध का संकेत देता है।”

पाल बताते हैं कि चुनावों के बाद भी, मोदी ने मशहूर हस्तियों के साथ संपर्क को “राष्ट्रहित” के रूप में प्रचारित किया।

“यह ब्रांडिंग और हस्तियों को आपके पक्ष में करने का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है,” उन्होंने कहा।

 

अधिक जानकारी

अध्ययन: वैधता, समर्थन और पुष्टि: सेलिब्रिटीज के साथ नरेंद्र मोदी की सोशल मीडिया पर एन्गेज्मन्ट 

जॉयजीत पाल